Posts

Showing posts with the label Islam and Swami Laxmi Shankracharya

मुसलमानों से निवेदन है ....

 अगर कोई नाम निहाद मौलाना आपके  मास्क लगाने पर सवाल खड़ा करते हुए आपके ईमान को कमजोर साबित  करने की कोशिश करे तो जरा ऐसे मौलानाओं से  पूछना  कि जब बीवी बाल बच्चे बीमार होते हैं तो डॉक्टरों के पास क्यों जाते हो ? खुद हल्की सी छींक आते ही  तुम्हारी नींद क्यों उड़ जाती है ? तुम्हारा मजबूत ईमान को उस वक़्त घुन क्यों लग जाता है ? ये तो बहुत ही मामूली बात और सवाल है , लिहाज़ किया जा रहा है , ताकि आइंदा बोलने से पहले सोंचों । कम पढ़े लिखे लोगों के पास उल्टी सीधी बात कर वाहवाही लूटने वाले ऐसे मौलानाओं को नहीं पता होता कि जब तुम्हारी बातों की पकड़ साइंस और सही हदीस के हवाले से होने लगेगी तो , अगवारे गिला और पछवारे पिला होने अलावा कुछ नहीं बचेगा । फिर मुँह दिखाने के लायक भी नहीं रहोगे । बात तो कभी कभी खूब बनाते हो ,  क़ुरआन, इस्लाम  और विज्ञान  इन सभी में आपस में खूब रिश्ता जोड़ते हो , संबंध जोड़ने में पीछे नहीं हटते । दुनिया को बताने की कोशिश खूब करते  हो कि विज्ञान , क़ुरआन में तरह तरह से सोध (रिसर्च ) के फलस्वरूप आया । दूसरी तरफ इसी क़ुरआन में रिसर्च  से पैदा हुए विज्ञान पर अमल करने वाले , इस्लाम और विज

लालू यादव की बेटी रख रही रोज़ा

Image
 

बड़े से बड़े शिक्षित और स्कॉलर इस्लाम और मुसलमानों के दुश्मन तो सरेंडर कर जा रहे इस्लाम की असलियत जानने के बाद ।।

Image
 

Deepak Malhotra ki Zindagi mein Islam kaise Aaya ? Click kar dekhein pura video

Image
 

Islam Mazhab ko Gale Lagane wali Ek Aurat ki kahani suniye unhi ki zubani ..

Image
 

#Islam ! इस वायरल खबर के मुताबिक पूरे गांव के लोगों ने अपना लिया इस्लाम धर्म ?

Image
 

Shariyat kis Liye hai ?

  Click kar janiye

#Islam mein Koi #Maulvi_Profession_Nahin

Image

पढ़ें इस्लाम के प्रति स्वामी लक्ष्मी शंकराचार्य जी की जुबानी :

18 Next Page ‎ Indian Muslims 1 hr मैंने कर्इ साल पहले दैनिक जागरण मे श्री बलराज मधोक का लेख ‘दंगे क्यों होते हैं ?’’ पढ़ा था। इस लेख में हिन्दू-मुस्लिम दंगा होने का कारण कुरआन मजीद में काफिरों से लड़ने के लिए अल्लाह के फरमान बताए गए थे। लेख मे कुरआन मजीद की वे आयते भी दी गर्इ थी। इसके बाद दिल्ली से प्रकाशित एक पैम्फलेट (पर्चा) ‘कुरआन की चौबीस आयतें, जो अन्य धर्मावलम्बियों से झगड़ा करने का आदेश देती हैं’ किसी व्यक्ति ने मुझे दिया। इसे पढ़ने के बाद मेरे मन में जिज्ञासा हुर्इ कि मैं कुरआन पढूं। इस्लामी पुस्तकों की दुकान से कुरआन का हिन्दी अनुवाद मुझे मिला। कुरआन मजीद के इस हिन्दी अनुवाद मे वे सभी आयतें मिली, जो पैम्फलेट (पर्चे) मे लिखी थी। इससे मेरे मन में यह गलत धारणा बनी कि इतिहास में हिन्दू राजाओं व मुस्लिम बादशाहों के बीच जंग में हुर्इ मार-काट तथा आज के दंगों और आतंकवाद का कारण इस्लाम हैं। दिमाग भ्रमित हो चुका था, इसलिए हर आतंकवादी घटना मुझे इस्लाम से जुड़ती दिखार्इ देने लगी। इस्लाम, इतिहास और आज की घटनाओं को जोड़त