Posts

Showing posts with the label GDP Of India||GDP||Finance Minister Of India||Indian Economy

बांग्लादेश की जीडीपी ग्रोथ भारत से बेहतर कैसे?

Image
  सरोज सिंह बीबीसी संवाददाता इमेज स्रोत, GETTY IMAGES भारत की जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) इस साल -10.3 प्रतिशत जा सकती है, जब से अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष यानी आईएमएफ़ का ये अनुमान सामने आया है, देश में भारत की जीडीपी से ज़्यादा चर्चा बांग्लादेश की जीडीपी की चल रही है. आईएमएफ़ का अनुमान ये भी है कि प्रति व्यक्ति जीडीपी में आने वाले दिनों में बांग्लादेश भारत को पीछे छोड़ कर आगे निकल जाएगा. इसी मुद्दे पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बुधवार को एक ट्वीट भी किया. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, "बीजेपी सरकार के पिछले छह साल के नफ़रत भरे सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की सबसे ठोस उपलब्धि यही रही है: बांग्लादेश भी भारत को पीछे छोड़ने वाला है." छोड़िए Twitter पोस्ट, 1 पोस्ट Twitter समाप्त, 1 इसके साथ ही उन्होंने एक ग्राफ़ भी ट्वीट किया, जिसमें बांग्लादेश, भारत और नेपाल के प्रति व्यक्ति जीडीपी का तुलनात्मक अध्ययन दिखाया गया है. विज्ञापन इस ग्राफ़ में साल 2020 के लिए बांग्लादेश में प्रति व्यक्ति जीडीपी 1876.5 डॉलर दिखाया गया है और भारत के लिए 1888.0 डॉलर दिखाया गया है. इस पर जाने माने अर्थशास्त्री कौशिक

जीडीपी क्या होती है और आम जनता के लिए ये क्यों अहम है?

Image
निधि राय बीबीसी संवाददाता 31 अगस्त 2020 इस पोस्ट को शेयर करें Facebook   इस पोस्ट को शेयर करें WhatsApp   इस पोस्ट को शेयर करें Messenger   इस पोस्ट को शेयर करें Twitter   साझा कीजिए इमेज कॉपीरइट HINDUSTAN TIMES सोमवार को सरकार मौजूदा वित्त वर्ष में अप्रैल-जून तिमाही के लिए जीडीपी के आँकड़े जारी करेगी. बीते कुछ वर्षों से भारत की अर्थव्यवस्था सुस्ती के दौर में बनी हुई है, लेकिन पिछली तिमाही के ये आँकड़े बीते कुछ दशकों के सबसे बुरे आँकड़े हो सकते हैं. ऐसा इसलिए है, क्योंकि इस साल अप्रैल से जून के दौरान पूरे देश में लॉकडाउन लागू किया गया था ताकि कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके. खाने-पीने की चीज़ों और आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई को छोड़कर बाक़ी सभी आर्थिक गतिविधियाँ इस दौरान ठप रही हैं. आने वाले जीडीपी के आँकड़े हर किसी के लिए अहम हैं, क्योंकि भारत में कोविड-19 महामारी के फैलने के तुरंत बाद अर्थव्यवस्था में आई सुस्ती की यह पहली आधिकारिक स्वीकारोक्ति होगी. तो सबसे पहले यह समझते हैं कि जीडीपी के आँकड़े होते क्या हैं. null और ये भी पढ़ें भारत क