Posts

Showing posts with the label #Delhi CommunalViolencePakistan#Iran#India

दिल्ली दंगे: दिल्ली पुलिस बार-बार कोर्ट के सामने शर्मसार क्यों हो रही है?

Image
इमेज स्रोत, GETTY IMAGES इमेज कैप्शन, सांकेतिक तस्वीर दिल्ली की एक अदालत ने शुक्रवार को दंगों से जुड़े एक मामले की सुनवाई करते हुए दिल्ली पुलिस को कड़ी फटकार लगाई है. लेकिन ये पहला मौका नहीं है जब दिल्ली की किसी अदालत ने दंगों से जुड़े मामले में दिल्ली पुलिस की आलोचना की है. इससे पहले दिल्ली हाई कोर्ट से लेकर सीएमएम कोर्ट जांच को लेकर दिल्ली पुलिस की जांच और उसकी चार्जशीट पर सवाल उठा रही है. जबकि दिल्ली पुलिस का कहना है कि उसने वीडियो एनालिटिक्स से लेकर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसी तकनीकों की मदद से इन मामलों की जांच की है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी संसद में दिल्ली पुलिस के काम की सराहना कर चुके हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि अदालतें दिल्ली पुलिस की आलोचना क्यों कर रही हैं. जामिया में गोली चलाने वाले ने अब मुस्लिम महिलाओं को अगवा करने की अपील की - प्रेस रिव्यू छोड़कर और ये भी पढ़ें आगे बढ़ें और ये भी पढ़ें सुनंदा पुष्कर हत्या मामला: शशि थरूर के बरी किए जाने तक क्या-क्या हुआ धर्म परिवर्तन करने वाली महिला की हाई कोर्ट से गुहार, पुलिस-मीडिया से बचाएं - प्रेस रिव्यू दिल्ली दंगा: पुलिस क

दिल्ली दंगा: घायल युवकों को राष्ट्रगान गाने के लिए मजबूर करने वाले तीन पुलिसकर्मियों की पहचान

Image
  01:29 PM Aug 20, 2021 | द वायर स्टाफ पिछले साल दंगों के दौरान एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें घायल अवस्था में पांच युवक ज़मीन पर पड़े हुए नज़र आते हैं. कम से कम सात पुलिसकर्मी युवकों को घेरकर राष्ट्रगान गाने के लिए मजबूर करने के अलावा उन्हें लाठियों से पीटते हुए नज़र आते हैं. इनमें से एक युवक की मौत हो गई थी, जिसकी पहचान 23 साल के फ़ैज़ान के रूप में होती है. उनकी मां का कहना था कि पुलिस कस्टडी में बेरहमी से पीटे जाने और समय पर इलाज न मिलने से उनकी जान गई. (फोटो: पीटीआई) नई दिल्ली:  पिछले साल के उत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगों के दौरान पांच घायल युवकों को दिल्ली पुलिस के कुछ कर्मचारियों द्वारा कथित तौर पर राष्ट्रगान गाने के लिए मजबूर करने के मामले में तीन पुलिसकर्मियों की पहचान कर ली गई है. इंडियन एक्सप्रेस  की रिपोर्ट के अनुसार, यह घटना वीडियो में कैद हो गई थी, जिसमें से एक घायल की बाद में मौत हो गई थी. सूत्रों ने कहा कि दिल्ली आर्म्ड पुलिस (डीएपी) में तैनात तीनों पुलिसकर्मियों का लाई-डिटेक्टर टेस्ट किया जाएगा. क्राइम ब्रांच की विशेष जांच इकाई ने 100 से अधिक पुलिसकर्मियों से पूछताछ की और दंगों के