Posts

Showing posts with the label Turki on kashmir issues

जम्मू और कश्मीरः चरमपंथी हमले में एक पार्षद और सुरक्षा गार्ड की हत्या

Image
  EPA/FAROOQ KHAN Copyright: EPA/FAROOQ KHAN जम्मू और कश्मीर के बारामूला ज़िले में सोमवार को हुए चरमपंथी हमले में ब्लॉक डेवलेपमेंट काउंसिल के एक सदस्य और उनके सुरक्षाकर्मी की मौत हो गई. सोपोर में नगरपालिका के दफ़्तर के बाहर ये हमला हुआ. इस हमले में एक आम नागरिक जख़्मी भी हुआ है. समाचार एजेंसी पीटीआई ने एक पुलिस अधिकारी के हवाले से बताया है कि चरमपंथियों ने बीडीसी के सदस्य रेयाज़ अहमद और उनके सुरक्षा गार्ड शफात अहमद पर गोलियां चलाईं. रेयाज़ और शफात की मौके पर ही मौत हो गई. पुलिस ने हमलावरों को पकड़ने के लिए इलाके की नाकाबंदी कर दी है

अर्दोआन की बड़ी घोषणा, तुर्की को मिला अब तक का सबसे बड़ा प्राकृतिक गैस भंडार

Image
इस पोस्ट को शेयर करें Facebook   इस पोस्ट को शेयर करें WhatsApp   इस पोस्ट को शेयर करें Messenger   इस पोस्ट को शेयर करें Twitter   साझा कीजिए इमेज कॉपीरइट EPA/TURKISH PRESIDENT PRESS OFFICE HANDOUT तुर्की के राष्ट्रपति रेचैप तैय्यप अर्दोआन ने शुक्रवार को बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि तुर्की ने काले सागर में अब तक का सबसे बड़ा प्राकृतिक गैस का भंडार ढूंढा है. साथ ही उन्होंने कहा कि तुर्की का लक्ष्य 2023 तक इसका इस्तेमाल करने का है. इस्तांबुल में प्रेस कॉन्फ़्रेंस करते हुए अर्दोआन ने कहा कि तुर्की के फ़तेह नामक ड्रिलिंग जहाज़ ने 320 अरब क्यूबिक मीटर प्राकृतिक गैस भंडार टूना-1 कुएं में पाया है. उन्होंने इसे तुर्की के इतिहास की सबसे बड़ी प्राकृतिक गैस की खोज बताया है. उन्होंने कहा कि इसी इलाक़े में नए गैस भंडार की खोज होगी. अर्दोआन ने कहा, "हमारा लक्ष्य काले सागर से गैस निकालकर 2023 तक इसके इस्तेमाल करने का है." साथ ही उन्होंने कहा कि तुर्की को भी पूर्वी भूमध्यसागर से 'ख़ुशख़बरी' की उम्मीद है. इस जगह पर भी तुर्की गैस की खोज कर रहा है. null और

अर्दोआन ने कश्मीर की रट क्यों लगा रखी है

Image
आदर्श राठौड़ बीबीसी संवाददाता, दिल्ली इस पोस्ट को शेयर करें Facebook   इस पोस्ट को शेयर करें WhatsApp   इस पोस्ट को शेयर करें Messenger   साझा कीजिए इमेज कॉपीरइट REUTERS पाकिस्तान दौरे पर आए तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप अर्दोआन ने कश्मीर को लेकर जो कहा, भारत को वह रास नहीं आया. पाकिस्तानी संसद में संबोधन के दौरान अर्दोआन ने कहा था कि कश्मीर जितना अहम पाकिस्तान के लिए है, उतना ही तुर्की के लिए भी. तुर्की के राष्ट्रपति ने कश्मीर और अन्य मुद्दों पर पाकिस्तान का समर्थन जारी रखने की बात कहकर वहां की संसद और जनता के बीच तो तालियां बटोर लीं मगर साथ ही भारत की नाराज़गी भी मोल ले ली. भारत के विदेश मंत्रालय ने अर्दोआन की टिप्पणी पर नाराज़गी जताते हुए कहा है कि तुर्की को भारत के आंतरिक मामलों में दख़ल नहीं देना चाहिए. जब-जब भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर को लेकर चले आ रहे विवाद पर प्रतिक्रिया देने की बात आती है, तब दुनिया के कई देश संतुलित बयान देते हैं या फिर सीधे-सीधे किसी के पक्ष में दिखने से बचते हैं. null और ये भी पढ़ें कश्मीर पर तुर्की क