Posts

Showing posts with the label चीन तक आम पाकिस्तान ने पहुँचाए

पाकिस्तान का आरोप- भारत बना रहा आतंकी संगठनों का गठबंधन

Image
  सहर बलोच बीबीसी उर्दू संवाददाता, इस्लामाबाद से इमेज स्रोत, EPA एलओसी पर भारत और पाकिस्तान के बीच फ़ायरिंग की घटनाओं के एक दिन बाद पाकिस्तान की सेना ने भारत पर पाकिस्तान में 'अस्थिरता पैदा करने' के आरोप लगाये हैं. शनिवार को इस्लामाबाद में एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस के दौरान पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी और पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ़्तिख़ार ने एक डोज़ियर के आधार पर कहा कि 'उनके पास इस बात के 'सबूत' हैं कि पाकिस्तान में होने वाली 'आतंकी घटनाओं' में भारत और उसकी ख़ुफ़िया एजेंसियां शामिल हैं.' पाकिस्तान ऐसे आरोप पहले भी लगा चुका है और भारत इन आरोपों को ख़ारिज करता रहा है. शुक्रवार को भारत और पाकिस्तान ने एक दूसरे पर नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम के उल्लंघन का आरोप लगाया था. विज्ञापन भारतीय सेना के मुताबिक़, इस गोलीबारी में तीन भारतीय सैनिकों समेत कम से कम छह लोगों की मौत हुई. भारतीय सुरक्षाबल के तीन सदस्य भी इस गोलीबारी में घायल हुए. छोड़कर और ये भी पढ़ें आगे बढ़ें और ये भी पढ़ें दिवाली से पहले सीमा पर गोलीबारी में भारत के तीन, प

चीन तक आम पाकिस्तान ने पहुँचाए, अब भारत को टक्कर देने की तैयारी

Image
हरजिंदर वरिष्ठ पत्रकार, बीबीसी हिंदी के लिए इस पोस्ट को शेयर करें Facebook   इस पोस्ट को शेयर करें WhatsApp   इस पोस्ट को शेयर करें Messenger   साझा कीजिए इमेज कॉपीरइट EPA/NADEEM KHAWAR गर्मियों के मौसम में आम के बारे में बहसें भी बहुत आम हैं. कोई लंगड़ा के लिए मरने-मारने को तैयार हो जाता है तो चौसा के कसीदे पढ़ता है, तो कोई दशहरी के आगे किसी और आम को कुछ ख़ास नहीं समझता, इसी तरह अलफांसो यानी हापुस के दीवाने भी दम भरते हैं. आम को लेकर यह सोच पिछले कुछ साल में काफी बढ़ी है कि कुछ आम खास होते हैं और बाकी सब तो बस आम होते हैं. महाराष्ट्र और गोवा वगैरह में माना जाता है कि एक आम होता है और एक अलफांसो होता है. माना जाता है कि पुर्तगाली जनरल अलफांसो डि अलबुक़र्की ने हापुस की खेती को बहुत बढ़ावा दिया और उनके नाम पर आम की नस्ल अलफ़ांसो कहलाई. गोवा से लेकर महाराष्ट्र के तटवर्ती रत्नागिरी इलाके तक में इसकी भरपूर उपज होती है. अलफांसो संभवतः सबसे महँगा आम है और इसका बहुत बड़ा हिस्सा भारत से निर्यात हो जाता है जिसकी यूरोपीय बाज़ार में काफ़ी माँग रहती है. बहरहाल, बिहार