Posts

Showing posts with the label Dalit Politics

राजस्थान: दलित जोड़े के मंदिर में प्रवेश को लेकर हुए विवाद में पुजारी गिरफ्तार

Image
  मोहर सिंह मीणा जयपुर से, बीबीसी हिंदी के लिए इमेज स्रोत, TARARAM MEGHWAL इमेज कैप्शन, शादी के बाद रीति रिवाज के अनुसार नारियल चढ़ाने के लिए दूल्हा दुल्हन को लेकर मंदिर गए थे परिजन राजस्थान में जालौर ज़िले के नीलकंठ गांव में मंदिर पहुंचे नवविवाहित दलित वर-वधू और उनके परिजनों से मंदिर में प्रवेश और नारियल चढ़ाने को लेकर पुजारी के साथ विवाद हो गया. सोशल मीडिया पर इस घटना से जुड़ा एक वीडियो वायरल हो रहा है. वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि इसमें पुजारी वेला भारती परिजनों को धमकाते हुए और उनको मंदिर के बाहर ही नारियल चढ़ाने की बात कहते हुए सुने जा सकते हैं. 22 अप्रैल की दोपहर में हुई इस घटना के बाद दुल्हन पक्ष की ओर से भाद्राजून पुलिस थाने में लिखित शिकायत दी गई. विज्ञापन इसके आधार पर पुलिस ने 23 अप्रैल को एससी/एसटी ऐक्ट में एफ़आईआर दर्ज की और पुजारी वेला भारती को गिरफ्तार कर लिया है. छोड़कर ये भी पढ़ें आगे बढ़ें ये भी पढ़ें बीरभूम हिंसा: 'एक ही कमरे में छिपे बैठे थे महिलाएं-बच्चे, हमलावरों ने लगा दी आग'- प्रेस रिव्यू मथुरा: गो-तस्करी के आरोप में भीड़ ने की मुसलमान शख़्स की प

7 साल में खुदकुशी के 122 मामले: क्या आईआईटी, आईआईएम और सेंट्रल यूनिवर्सिटी में जातिगत भेदभाव बड़ा मसला बन गया है?

Image
  पृथ्वीराज बीबीसी संवाददाता 26 दिसंबर 2021 अपडेटेड एक घंटा पहले इमेज स्रोत, ANI इसी हफ़्ते सोमवार को केंद्र सरकार ने लोकसभा को बताया कि देश के आईआईटी, आईआईएम, केंद्रीय विश्वविद्यालयों और भारत सरकार के पैसे से चलने वाले दूसरे उच्च शैक्षणिक संस्थानों में 122 छात्रों ने साल 2014 से 2021 के दरमियान खुदकुशी कर ली. इसी के साथ ये सवाल भी उठा कि क्या देश के सबसे बेहतरीन माने जाने वाले शिक्षण संस्थानों में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक वर्ग के छात्रों के ख़िलाफ़ कथित तौर पर होने वाले भेदभाव के कारण इन बच्चों ने खुदकुशी कर ली. लोकसभा सांसद एकेपी चिनराज के एक सवाल के जवाब में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने लोकसभा में बताया कि खुदकुशी करने वाले छात्रों में 24 बच्चे अनुसूचित जाति, 41 अन्य पिछड़ा वर्ग, तीन अनुसूचित जनजाति और तीन अल्पसंख्यक समुदाय के थे. आत्महत्या एक गंभीर मनोवैज्ञानिक और सामाजिक समस्या है. अगर आप भी तनाव से गुजर रहे हैं तो भारत सरकार की  जीवन आस्था हेल्पलाइन  1800 233 3330 से मदद ले सकते हैं. आप सरकार की  किरण मेंटल हेल्थ हेल्पलाइन  1800